Acidic and Basic radical test: लवण विश्लेषण :Write in this way

12 0
Read Time:5 Minute, 49 Second

Salt analysis (Acidic and Basic radical test) is done to find out acidic and basic radicals present in it. Salt analysis is a qualitative analysis. लवण विश्लेषण द्वारा यह ज्ञात किया जाता है कि दिए गए लवण के नमूने में कौन सा धनायन (Cation) तथा कौन सा ऋणायन (Anion) उपस्थित है | लवण की थोड़ी सी मात्रा को परखनली में लेकर विभिन्न अभिकर्मक मिलाकर परीक्षण किया जाता है तो उसमे उत्पन्न गैस का रंग , गंध , तीक्ष्णता या विलयन का रंग , अवक्षेप (precipitate), अवक्षेप की घुलनशीलता आदि प्रेक्षणों से कुछ निष्कर्ष निकलता है जिससे लवण में उपस्थित अम्लीय मूलक (Anion) अथवा क्षारीय मूलक(Cation) का पता चल जाता है I लवण विश्लेषण को गुणात्मक विश्लेषण (Qualitative Analysis) भी कहते है I

प्रयोग संख्या – 03

उद्देश्य :- दिए गए लवण (मिश्रण) में एक अम्लीय मूलक तथा एक क्षारीय मूलक की पहचान कीजिये I

आवश्यक उपकरण :-टेस्ट ट्यूब,फ़िल्टर पेपर ,बर्नर, स्प्रिट लैम्प , टेस्ट ट्यूब होल्डर ,अभिकर्मक इत्यादि I

प्रेक्षण तालिका :- अम्लीय मूलक की पहचान करना –

क्र0सं0  प्रयोग  प्रेक्षणनिष्कर्ष
1मिश्रण +तनु H2SO4 (ठन्डे में)
थोड़ा सा गर्म करने पर
कोई क्रिया नहींप्रथम समूह अनुपस्थित
2(i) मिश्रण + सांद्र H2SO4 थोड़ा सा गर्म करने परतीक्ष्ण गंधयुक्त गैसद्वितीय समूह संभव
 (ii) परखनली के मुख पर NH4OH से भीगी छड़ लाने परसफ़ेद धुआं निकलता हैCl निश्चित
 (iii)मिश्रण + तनु HNO3 +AgNO3सफ़ेद अवक्षेप , NH4OH में विलेयCl निश्चित

रासायनिक अभिक्रियाएं :-

2NaCl + H2SO4 ——-> Na2SO4 +2HCl

NH4OH + HCl ———> NH4Cl + H2O

NaCl + AgNO3 ——-> AgCl  + NaNO3

प्रेक्षण तालिका :- क्षारीय  मूलक की पहचान करना –

क्र0सं0प्रयोग प्रेक्षणनिष्कर्ष
1    मिश्रण + NaOH
थोड़ा सा गर्म करने पर  
अमोनिया  की गंध
आती है  
NH4+
संभव  
2परखनली के मुख पर
NH4OH से भीगी छड़
लाने पर
सफ़ेद धुआं
निकलता है
NH4+
निश्चित

रासायनिक अभिक्रियाएं :-

NH4Cl + NaOH   —–>   NaCl + H2O + NH3

NH3 + HCl           —–>    NH4Cl

परिणाम :- दिए गए लवण में उपस्थित  एक  अम्लीय मूलक तथा  एक  क्षारीय मूलक निम्न हैं –

          (i) अम्लीय मूलक …. Cl ( क्लोराइड आयन )

          (ii) क्षारीय मूलक …… NH4+ ( अमोनियम आयन )

image
image

                    

    प्रयोग संख्या – 04

उद्देश्य :- दिए गए लवण (मिश्रण) में एक अम्लीय मूलक तथा एक क्षारीय मूलक की पहचान कीजिये I

आवश्यक उपकरण :-टेस्ट ट्यूब,फ़िल्टर पेपर ,बर्नर, स्प्रिट लैम्प , टेस्ट ट्यूब होल्डर ,अभिकर्मक इत्यादि I

प्रेक्षण तालिका :- अम्लीय मूलक की पहचान करना –

क्र0सं0 प्रयोगप्रेक्षणनिष्कर्ष
1मिश्रण +तनु H2SO
(ठन्डे में)
रंगहीन , गंधहीन गैस बुदबुदाहट के साथ निकलती हैCO3– – संभव
2गैस को चूने के पानी में प्रवाहित करने परचूने का पानी दूधिया हो जाता हैCO3– –
निश्चित

रासायनिक अभिक्रियाएं :-

ZnCO3 + H2SO4 —— > ZnSO4 + H2O + CO2

Ca(OH)2 + CO2 ——- > CaCO3 + H2O

(चूने का पानी)

प्रेक्षण तालिका :- क्षारीय  मूलक की पहचान करना –

क्र0सं0    प्रयोग     प्रेक्षणनिष्कर्ष
1    मिश्रण + NaOH
थोड़ा सा गर्म करने पर  
कोई अभिक्रिया नहींशून्य समूह अनुपस्थित
2मूल विलयन + di HCl विलयन (ठन्डे में)सफ़ेद अवक्षेपPb++ संभव

3सफ़ेद अवक्षेप + KI विलयनपीला अवक्षेपPb++ निश्चित

रासायनिक अभिक्रियाएं :-

Pb(NO3)2 +2HCl     —– > PbCl2    +    2HNO3

                                   (सफ़ेद अवक्षेप)

PbCl2 + 2KI —– > PbI+ 2KCl

                               (पीला अवक्षेप)

परिणाम :- दिए गए लवण में उपस्थित  एक  अम्लीय मूलक तथा  एक  क्षारीय मूलक निम्न हैं –

          (i) अम्लीय मूलक =>  CO3– – ( कार्बोनेट आयन )

         (ii) क्षारीय मूलक =>  Pb++ ( लेड आयन)

video will be available soon showing analysis of these radicals

YouTube player
YouTube player
YouTube player
Happy
Happy
64 %
Sad
Sad
2 %
Excited
Excited
16 %
Sleepy
Sleepy
4 %
Angry
Angry
4 %
Surprise
Surprise
9 %